MLM News

News update on Stock Guru India Scam

Rate this news...

निवेश के नाम पर करोड़ों रुपये लेकर फरार


पश्चिमी दिल्ली, जागरण संवाददाता : निवेश करने पर भारी मुनाफे का लालच देकर सैकड़ों लोगों से करोड़ों रुपये लेकर कंपनी संचालक फरार हो गया। पीडि़तों का कहना है कि गुरु स्टॉक कंपनी के संचालक लोकेश्वर देव जैन की बातों से प्रभावित होकर उन्होंने अपनी गाढ़ी कमाई निवेश की थी। तीन दिन पहले वह मोती नगर स्थित कंपनी कार्यालय में ताला जड़ दिया और फरार हो गया। इसका पता चलने पर बृहस्पतिवार की सुबह सैकड़ों लोगों ने मोतीनगर थाने में कंपनी मालिक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने मामला दर्जकर छानबीन शुरू कर दी है।

पुलिस के अनुसार, मोतीनगर थानाक्षेत्र स्थित लीजा कांप्लेक्स में लोकेश्वर देव जैन की गुरु स्टॉक नामक कंपनी थी। वह लोगों को स्कीम के तहत न्यूनतम दस हजार रुपये निवेश करने के लिए कहता था। बदले में 20 प्रतिशत ब्याज देने का लालच देता था। उसके लुभावने स्कीम को सुनकर लोग अपनी गाढ़ी कमाई कंपनी में निवेश करने लगे। एक साल के अंदर ही कंपनी ने विभिन्न राज्यों के निवेशकों से करोड़ों रुपये लिए और तीन दिन पहले कंपनी कार्यालय पर ताला लगा दिया। उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के लोगों ने कंपनी में निवेश किया था। निवेशकों का कहना है कि उन्हें कुछ दिन पहले एहसास हो गया था कि कंपनी बंद होने वाली है। उन्होंने लोकेश्वर से इसकी शिकायत की। लोकेश्वर ने करीब पंद्रह दिन पहले द्वारका सेक्टर 19 में बैठक कर निवेशकों को रुपये लौटाने का आश्वासन दिया। इसके बाद वह साथियों के साथ फरार हो गया। लोगों की शिकायतों को देखते हुए लगता है कि उसने कई राज्यों के हजारों लोगों को शिकार बनाया है।

बताया जा रहा है कि हाल में ही लोकेश्वर ने 34 करोड़ रुपये पर टैक्स भरा था। पुलिस भी दबी जुबान से करीब एक अरब रुपये की ठगी की बात स्वीकार कर रही है। निवेशक ओमबीर ने बताया कि आरोपी सभी राज्य में जाकर लोगों के साथ बैठक करता और उन्हें बड़े-बड़े सपने दिखाता था। वह बोलता था कि उनके रुपयों को कॉपर के व्यवसाय में निवेश किया जा रहा है। उसकी बातों में आकर उन्होंने अपने लाखों रुपये गंवा दिए। वहीं सुनीता ने बताया कि उसने करीब 34 लाख रुपये निवेश कर रखा था। इसमें उसके कुछ सहयोगियों का भी रुपये थे। मेरठ से आए सुदीप ने कहा कि उसने सहयोगियों के साथ मिलकर करीब चौदह लाख रुपये का निवेश किया था। सभी पीडि़तों के बयान के आधार पर मोतीनगर थाना पुलिस ने मामला दर्जकर छानबीन शुरू कर दी है। आशंका जताई जा रही है कि घटना के बाद वह विदेश फरार हो गया है। ऐसे में पुलिस उसके पासपोर्ट का नंबर तलाशने में जुटी हुई है। पुलिस उपायुक्त वी रंगनाथन ने कहा कि मामला दर्जकर छानबीन की जा रही है। आरोपी की गिरफ्तार के प्रयास किए जाएंगे

English Translation

Absconding with the name of the multi-crore investment


West Delhi, awakening the press: the lure of huge profits by investing hundreds of people with multi-crore company driver fled. Victims say that Guru Dev, Jain Lokeshwar stock company director, inspired by the things he had invested his hard-earned. Three days before the Pearl City-based company has roots in the lock to the office and fled.Hundreds of people walk out on the Thursday morning Motinagr station owners filed a complaint against the company.

Police have started investigating the case Dergkara.According to police, Lisa Motinagr Thanakshaetr complex located in the Lokeshwar Dev Jain’s company was named master stock. The people under the scheme calls for the minimum investment was ten thousand rupees. The lure used to pay 20 percent interest in return. Listening to his lucrative scheme began to invest in their own hard-earned company. Within a year, the company rupees from investors in different states and three days before the company office locked. Uttar Pradesh, Haryana and Punjab people had invested in the company.

Investors say they had realized a few days ago that the company is going to stop. He complained of Lokeshwar. Lokeshwar about fifteen days before the meeting investors in Dwarka Sector-19 assured return of Rs. He then fled with peers. Given people’s complaints that he made numerous states thousands of victims. Being told that the 34 crore recently Lokeshwar tax was full. The police suppressed speech nearly a billion of the fraud is admitted. Investors Ombir said all accused go to the state meets with people and large – big dreams was performing.

He spoke that their money is being invested in the copper business. He came in her words have lost millions. While Sunita said he had invested about Rs 34 lakh. It also some of his colleagues were Rs. From Meerut Sudeep said he teamed up with partners had invested about Rs 1.4 million. All statements by victims Motinagr station Dergkara police investigating the case has started. Is feared that the incident after he fled abroad.So the police is engaged in finding her passport number. Deputy Commissioner V. Ranganathan said Dergkara case is being investigated. Accused’s arrest will be made.

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 116 other subscribers

Leave a Reply

Send this to friend