MLM समाचार

KWIL कंपनी ने उगाहे झारखंड से 300 करोड़

Written by Ak Sharma

KWIL कंपनी ने उगाहे झारखंड से 300 करोड़

Kolkata Weir Industries Limited, kolkata, MLM NEWS, MLM hindi news, chit fund, chit fund, agent,

कोलकाता: Kolkata Weir Industries Limited नाम की चिटफंड कंपनी पर पांच वर्षो में झारखंड से 300 करोड़ रुपये की उगाही कर गायब होने का आरोप है. 


इस चिटफंड कंपनी के एजेंट तमाल कुमार जाना ने बताया : झारखंड में कंपनी ने 2009 में अपना व्यवसाय शुरू किया था. अगस्त 2013 में सेबी ने इस कंपनी पर लोगों से धन लेने पर रोक लगा दी. तब से यह चिटफंड कंपनी गायब है. 


अगस्त 2013 से इस चिटफंड कंपनी ने किसी भी निवेशक को एक भी रुपये का भुगतान नहीं किया है. वह सेबी की रोक का बहाना बना कर अपना पल्लू झाड़ लेती है. 


घाटशिला निवासी तमाल कुमार जाना ने बताया कि चिट फंड कंपनी गायब हो चुकी है. ऐसे में निवेशकों ने हमारा जीना दूभर कर दिया है. झारखंड में इस कंपनी के लगभग पांच हजार एजेंट थे, जिनमें से अधिकतर निवेशकों के डर से भागे-भागे फिर रहे हैं. 


कोलकाता वेयर इंडस्ट्रीज लि के एक अन्य एजेंट ने आरोप लगाया है कि सारधा घोटाले की जांच के लिए गठित श्यामल सेन आयोग के पास हमारा मामला भी भेजा गया था. हमें पता नहीं है कि यह मामला सेबी के पास है या आयोग अभी भी इसकी जांच कर रहा है. कंपनी ने लाखों लोगों से करोड़ों रुपये ठगने के बाद चिट फंड व्यवसाय बंद कर दिया है. लेकिन पश्चिम बंगाल में उसका होटल व मिनरल वाटर का व्यवसाय चल रहा है. 


उन्होंने बताया कि डायमंड हार्बर में स्काईलार्क, पलता में रिच रिवेरिया, दीघा में मेघा नामक होटल इसी कंपनी के हैं. कंपनी का रजिस्टर्ड ऑफिस डायमंड हार्बर में है. दो-चार बार वे लोग वहां भी जा पहुंचे, लेकिन उन्हें भगा दिया गया. फिर धमकियां भी दी जाने लगीं. अब उन्हें वहां जाने में डर लगता है. जमशेदपुर अदालत में कंपनी के खिलाफ एक केस दर्ज हो चुका है. 


चिट फंड कंपनी कोलकाता वेयर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के हजारों एजेंट चाहते हैं कि सारधा मामले की तरह उनके साथ भी इंसाफ हो और कंपनी के मालिकों व अधिकारियों को फौरन गिरफ्तार कर निवेशकों के रुपये लौटाये जायें.

अगर आपके पास भी मल्टी लेवल मार्केटिंग (MLM) से जुडी कुछ जानकारी है या फिर आप विचार शेयर करना हैं तो कमेंट बाक्स मे जाकर कमेंट कर सकतें हैं।

सब्सक्राइब करें Networking Eye

बस एक क्लिक के साथ कुछ ही सेकंड्स में सब्सक्राइब करें न्यूज़लेटर!

Join 2,779 other subscribers

Leave a Reply

3 Comments

  • KWIL ne bohot sare garibo ka pesha khaya h ……kuch log h jise mea janta hu 5 lakh 15 lakh or v bohot pese khaye h or vo logo ka halt aaj bohot kharab h kuch logo ne to suicide v kar liya

  • कोलकाता: Kolkata Weir Industries Limited नाम की चिटफंड कंपनी पर पांच वर्षो में झारखंड से 300 करोड़ रुपये की उगाही कर गायब होने का आरोप है.

    इस चिटफंड कंपनी के एजेंट तमाल कुमार जाना ने बताया : झारखंड में कंपनी ने 2009 में अपना व्यवसाय शुरू किया था. अगस्त 2013 में सेबी ने इस कंपनी पर लोगों से धन लेने पर रोक लगा दी. तब से यह चिटफंड कंपनी गायब है.

    अगस्त 2013 से इस चिटफंड कंपनी ने किसी भी निवेशक को एक भी रुपये का भुगतान नहीं किया है. वह सेबी की रोक का बहाना बना कर अपना पल्लू झाड़ लेती है.

    घाटशिला निवासी तमाल कुमार जाना ने बताया कि चिट फंड कंपनी गायब हो चुकी है. ऐसे में निवेशकों ने हमारा जीना दूभर कर दिया है. झारखंड में इस कंपनी के लगभग पांच हजार एजेंट थे, जिनमें से अधिकतर निवेशकों के डर से भागे-भागे फिर रहे हैं.

    कोलकाता वेयर इंडस्ट्रीज लि के एक अन्य एजेंट ने आरोप लगाया है कि सारधा घोटाले की जांच के लिए गठित श्यामल सेन आयोग के पास हमारा मामला भी भेजा गया था. हमें पता नहीं है कि यह मामला सेबी के पास है या आयोग अभी भी इसकी जांच कर रहा है. कंपनी ने लाखों लोगों से करोड़ों रुपये ठगने के बाद चिट फंड व्यवसाय बंद कर दिया है. लेकिन पश्चिम बंगाल में उसका होटल व मिनरल वाटर का व्यवसाय चल रहा है.

    उन्होंने बताया कि डायमंड हार्बर में स्काईलार्क, पलता में रिच रिवेरिया, दीघा में मेघा नामक होटल इसी कंपनी के हैं. कंपनी का रजिस्टर्ड ऑफिस डायमंड हार्बर में है. दो-चार बार वे लोग वहां भी जा पहुंचे, लेकिन उन्हें भगा दिया गया. फिर धमकियां भी दी जाने लगीं. अब उन्हें वहां जाने में डर लगता है. जमशेदपुर अदालत में कंपनी के खिलाफ एक केस दर्ज हो चुका है.

    चिट फंड कंपनी कोलकाता वेयर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के हजारों एजेंट चाहते हैं कि सारधा मामले की तरह उनके साथ भी इंसाफ हो और कंपनी के मालिकों व अधिकारियों को फौरन गिरफ्तार कर निवेशकों के रुपये लौटाये जायें.

  • I have invested Rs 500000 in Kolkata wire industries ltd. . I belongs to a middle-class family. The money is very necessary for my family. Can you plz give some information how to back my money. I will be great full to you.

    Thanks with Regard
    DASHRATH PRASAD
    MOB. NO. 8235174942
    JAMSHEDPUR, JHARKHAND.

%d bloggers like this: